Song : Bhaiya Rangle Naya Saari

Singer : Pawan Singh, Priyanka Singh

Music : Chhote Baba

Lyrics : Prakash Barood

Sahyog : Santosh Singh, Amit Singh

Parikalpna : Deepak Singh

Ashirwad : Mata – Pita, Ajeet Singh (Jokhari)

Recordist – Mixed by : Rakesh Sharma

Music on : SRK MUSIC

भईया रंगले नया साड़ी (Bhaiya Rangle Naya Saree) होली Lyrics हाल ही में रिलीज़ एक पवन सिंह और प्रियंका सिंह का होली गाना है। यह गाना होली में काफी धूम मचाएगा युवाओं के बीच। इस गाने को म्यूजिक दिया है Chhote Baba ने और संगीत दिया है – प्रकाश बारूद ने। और इस गाने को SRK MUSIC  ने अपने यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया है। 

Bhaiya Rangle Naya Saree Lyrics – Pawan Singh.

Phone Uthave Me Yetna Deri Lagata
Ka Haal Ba Thik Ba Nu
Ka Kahi
Ka Chalata


Haal Samachar Ka Ba Boli
Bitata Nu Thik Se Holi
Are Haal Samachar Ka Ba Boli
Aa Bitata Nu Thik Se Holi


Aa Didiya Ka Karatari
Tani Baat Karai Na


Bhaiya Rangle Naya Saari
U Ta Chhuyeli Na Haari
Holi Hokhata Bekar
Bhauji Garam Badi


Ka
Holi Hokhata Bekar
Bhauji Garam Badi


Ghar Ke Dulari Hiya Badi Pyar Se Nu Posail Biya


Gharwa Me Kalah Bhail Ba
Sali Ho Didiya Ke Samjhawa
Sab Ta Unke Kail Ba




Silk Ke Saari Rahe Unka Pasand Ke
Eko Ber Na Penhale Rahali Ha Tan Pe
Silk Ke Saari Rahe Unka Pasand Ke
Eko Ber Na Penhale Rahali Ha Tan Pe


Kasahu Jhagra Sambhari
Are Tani Mundiyal Hiya


Bhaiya Rangle Naya Saari
U Ta Chhuyeli Na Haari
Holi Hokhata Bekar
Bhauji Garam Badi


Ha Ta Rauye Nu Pasand Kake Le Gail Bani
Kahani Ki Hamra Ke Le Chali
Ta Raua Bhogi
Ab Ke Jheli


Bhaiya Ke Haal Bura Sutatare Duara
Teen Panja Marai Me Daal Ke Puara
Bhaiya Ke Haal Bura Sutatare Duara
Teen Panja Marai Me Daal Ke Puara


Pawan Ji Dekhai Kalakari
Prakash Ko Bula Lijiye


Bhaiya Rangle Naya Saari
U Ta Chhuyeli Na Haari
Holi Hokhata Bekar
Bhauji Garam Badi



Aawe Ke Padi Ka..

Bhaiya Rangle Naya Saree Lyrics In Hindi – Pawan Singh.

फ़ोन उठावे में अतना देरी लागता ? का हाल बा ?

ठीक बा नु ?

का कही ?

का चलता ?

होली है !

हाल समाचार का बा बोलीं ?

बितता नु ठीक से होली ?

अरे ! हाल समाचार का बा बोलीं ?

बितता नु ठीक से होली ?

आ दिदिया का कर ताड़ी ?

तनी बात करायीं न। 

भईया रंगले नया साड़ी।

ऊ त छुए ली ना हाड़ी। 

होली होखता बेकार। भऊजी गरम बाड़ी। 

का ? 

होली होखता बेकार। भऊजी गरम बाड़ी। 

घर के दुलारी हिय। बड़ी प्यार से नु पोशाईल बिया। 

घरवा में कलह भईल बा।

घरवा में कलह भईल बा।

हरे – घरवा में कलह भईल बा।

साली हो दिदिया के समझाव सब त उनके कईल बा। 

साली हो दिदिया के समझाव सब त उनके कईल बा। 

सिलक के साड़ी रहे उनका पसंद के। 

उनका पसंद के हो उनका पसंद के। 

एको बेर ना पेन्हले रहली ह तन पे। 

रहली ह तन पे हो रहली ह तन पे। 

सिलक के साड़ी रहे उनका पसंद के। 

एको बेर ना पेन्हले रहली ह तन पे। 

केइसहु झगड़ा सम्हाली। 

अरे तनी मुडिया लिह। 

भईया रंगले नया साड़ी।

ऊ त छुए ली ना हाड़ी। 

होली होखता बेकार। ऊ त गरम बाड़ी। 

होली होखता बेकार भऊजी गरम बाड़ी। 

(हँ त रउए न पसन्द क के ले गईल बानी। कहनी की हमरा के ले चलीं। त रऊआ भोगी के झेली ?)

भईया के हाल बुरा सूत तारे दुअरा। 

सूत तारे दुअरा हो सूत तारे दुअरा। 

तीन पाँजा मड़ई में डाली के पुअरा। 

डाली के पुअरा हो डाली के पुअरा। 

भईया के हाल बुरा सूत तारे दुअरा। 

तीन पाँजा मड़ई में डाली के पुअरा। 

पवन जी देखाई कलाकारी। 

प्रकाश को बुला लीजिये। 

भईया रंगले नया साड़ी।

ऊ त छुए ली ना हाड़ी। 

होली होखता बेकार। ऊ त गरम बाड़ी। 

होली होखता बेकार भऊजी गरम बाड़ी।

आवे के पड़ी का ?